गंगा के प्रदूषण पर एनजीटी सख्त, हरिद्वार और ऋषिकेश में बैन की प्लॉस्टिक से बनी चीजें

नई दिल्ली. एनजीटी ने शुक्रवार को गंगा नदी के किनारे स्थित हरिद्वार और ऋषिकेश जैसे शहरों में प्लास्टिक से बनी चीजों पर रोक लगा दी है। अगर कोई एनजीटी के आदेश का पालन नहीं करता है तो उसे 5,000 का जुर्माना लगेगा। एनजीटी ने डिस्पोजेबल प्लास्टिक पर भी रोक लगाई है।  

-एनजीटी अध्यक्ष न्यायमूर्ति स्वतंत्र कुमार की अध्यक्षता वाली पीठ ने उत्तरकाशी तक इस तरह की चीजों की बिक्री, विनिर्माण और भंडारण पर भी रोक लगा दी है। 

-एनजीटी ने कहा है कि आदेश का उल्लंघन करने वालों पर 5 हजार रुपए का जुर्माना लगेगा और गलती करने वाले अधिकारियों के खिलाफ भी कार्रवाई की जाएगी।