खून किसी का हो, जख्मी हिन्दुस्तान होता है, कर्नाटक वीएचपी नेता के भडकाउ बयान पर देवबंद उलेमाओं ने कहा

लखनऊ. कासगंज में सांप्रदायिक हिंसा के बीच कर्नाटक में विश्व हिंदू परिषद (वीएचपी) के एक नेता ने विवादास्पद बयान दिया है। वीएचपी के दक्षिण कन्नड़ जिला प्रमुख जगदीश शेन्वा ने कहा कि यदि निर्दोष दीपक राव की हत्या के प्रतिशोध में एक निर्दोष बशीर की हत्या कर दी जाती है तो उन्हें कोई दिक्कत नहीं होगी।

हिंदू संगठन के नेता ने यह बयान मंगलुरु में एक पुस्तक विमोचन कार्यक्रम में दिया। 

देवबंदी उलेमाओं ने वीएचपी के नेता के इस बयान की पुरजोर निंदा करते हुए कहा विश्व हिन्दू परिषद का नेता हो या किसी भी समुदाय से ताल्कुक रखता हो, मुसलमान हो चाहे हिन्दू हो, जिस अंदाज का यह बयान है अगर यह हिन्दुस्तानी इंसान की जुबान पर आ रहा है तो यह हिन्दुस्तान की संस्कृति परम्परा के बिल्कुल खिलाफ है।  

मदरसा दारूल उलूम अशरफिया के मौलाना सालिम अशरफ कासमी ने कहा कि मानता हूं कि कत्ल हुआ है और फिर उसके बाद बशीर का कत्ल हुआ लेकिन अगर इस नजरिये से हिन्दुस्तान आगे बढ़ेगा तो सब कुछ बिखर जाएगा। खून हिन्दू व मुसलमान दोनों का ही लाल है। जो ऊपर वाले के ही बनाये हुए हैं।

हिन्दुस्तान में मुसलमान भी कीमती है और हिन्दू भी कीमती है। उन्होंने कहा कि खून किसी का हो, हिन्दू का हो या फिर मुसलमान का, जख्मी हिन्दुस्तान होता है।