रुद्रप्रयाग में वाटर WATER SPORTS का आयोजन, टूरिस्ट्स ले रहे हैं आनंद

रुद्रप्रयागः जनपद के पपड़ासू में साहसिक पर्यटन के तहत जल क्रीड़ाएं आरम्भ हो गई हैं। टिहरी  झील की तर्ज पर जिले की पपड़ासू झील में अब पर्यटक वाटर स्पोट्र्स के तहत 5 दिवसीय खेल उत्सव का आयोजन किया गया है। जिला प्रशासन व पर्यटन विभाग ने कार्य योजना को मूर्त रूप दे दिया है। क्षेत्रीय विधायक भरत सिंह चौधरी ने इसका विधिवत शुभारम्भ किया।

श्रीनगर स्थित डैम के चलते रुद्रप्रयाग जिले की सीमा से सटे पपड़ासू क्षेत्र में करीब डेढ़ से दो किमी लम्बी झील तैयार हो गयी है। जहां पर रेत के टीले भी स्वतः बनकर तैयार हो गये हैं। चारधाम यात्रा मार्ग पर होने के कारण यहां पर काफी संख्या में पर्यटक रुक भी रहे हैं।

पर्यटकों के जरिये स्थानीय बेरोजगारों को रोजगार देने के मकसद से पर्यटन विभाग द्वारा विभिन्न जल क्रीड़ाओं का आयोजन किया गया। रुड़की की शिवालिक वाटर एण्ड एडवेंचर क्लब से आई 20 सदस्यीय टीम स्थानीय युवाओं को वाटर स्पोट्र्स के गुर सिखायेंगी। पपड़ासू, नगरासू समेत विभिन्न गाँवों के युवा इसमें भाग ले रहे हैं। 

पपड़ासू में वाटर स्पोर्स की गतिविधियां संचालित होने से जहां क्षेत्रीय जनता में उत्साह है, वहीं युवा इसमें रोजगार की भी असीम सम्भावनाएं तलाश रहे हैं। जबकि चारधाम यात्रा मार्ग पर होने के कारण  इस खूबसूरत स्थान को देखने के लिए पर्यटक भी रुकने लग गये हैं। 

फरवरी माह को वाटर स्पोट्र्स महीना घोषित कर दिया गया है। ऐसे में यहां होने वाली गतिविधियों का स्वयं डीएम व अन्य अधिकारियों ने भी जायजा लिया। पपड़ासू झील को रोजगार से जोड़ने के लिए प्रशासन की यह कार्ययोजना कितनी सार्थक होती है यह भविष्य के गर्भ में है। 

मगर यह तो तय है कि इस कार्ययोजना के चलते बेरोजगारों को रोजगार मिलने के साथ ही पलायन पर भी रोक लगेगी और सरकार को भी राजस्व की प्राप्ति होगी।