BJP विधायक के समर्थकों की गुंडई से डरकर डाॅक्टर दंपत्ति ने छोड़ा सरकारी काम, इस्तीफा देने पर कर रहे विचार

फर्रुखाबादः लोहिया जिला अस्पताल में बीजेपी विधायक के समर्थकों की गुंडई से आजिज एकमात्र सर्जन और उनकी चिकित्सक पत्नी ने काम छोड़ दिया है। फिलहाल दोनों लम्बी छुट्टी पर चले गए हैं और पिछले तीन दिन से मरीज भटक रहे हैं। पता चला है कि दोनों ने सरकारी सेवा से इस्तीफा देने का फैसला कर लिया है। 

विधायक समर्थक की पत्नी के आपरेशन कर पाने में असमर्थता बताने पर सर्जन डा. गौरव मिश्र को उनकी गाली गलौज और धमकियां सुननी पड़ीं। प्रभारी सीएमएस और प्रांतीय चिकित्सा सेवा संघ के अध्यक्ष डा. वीके दुबे के नेत्रत्व में डाक्टरों ने जिलाधिकारी से मिलकर सुरक्षा की गुहार लगाईं है।

नगर विधायक मेजर सुनील दत्त द्विवेदी के समर्थक अरुण त्रिवेदी और स्वदेश त्रिवेदी ने लोहिया अस्पताल के सर्जन डा. गौरव मिश्र के साथ इतनी गाली गलौज की और धमकियाँ दी कि वह काम छोड़ कर घर चले गए। पता चला है कि एक आपरेशन को लेकर डाक्टर ने असमर्थता व्यक्त कर दी थी और भाजपा नेता इसी बात से नाराज थे। 

इसके बाद तो दोनों भाजपा नेता इतने आग बबूला हुए कि डाक्टर को देखने और निपट लेने की धमकियाँ देने लगे। इस दौरान सर्जन की डाक्टर पत्नी भी उनके साथ थीं। अपमानित हुए डाक्टर दम्पती काम छोड़ कर चले गए। उनके चेंबर पर डाक्टर अवकाश पर हैं की सूचना लटक रही है. सूचना है कि अब वह वापस नहीं आयेंगे।

दोनों समर्थक बसपा से भाजपा में आये हैं। लगभग दो साल तक यह सर्जन का पद खाली पड़ा रहा था और काफी प्रयासों के बाद डा. गौरव ने यहाँ ज्वाइन किया था। प्रांतीय चिकित्सा सेवा संघ के अध्यक्ष और प्रभारी सीएमएस डा. बीके दुबे ने बताया की डाक्टरों ने जिलाधिकारी से मिलकर पूरे प्रकरण से अवगत कराया है और सुरक्षा की मांग की है।