वेदांती ने कहा-'राम जन्मभूमि के नाम पर पैसे कमाना चाहते हैं श्री श्री रविशंकर,उनका कोई धर्म नहीं है'

गोरखपुर. रामजन्म भूमि के न्यास समिति के सदस्य और पूर्व भाजपा सांसद रामविलास वेदांती हमेशा अपने ब्यानों को लेकर चर्चा में रहते हैं। मंगलवार को श्री श्री रविशंकर पर निशाना साधा है। उन्होंने कहा है कि श्री श्री रविशंकर का कोई धर्म नहीं है, वह राम जन्म भूमि के नाम पर अपना एनजीओ चलाना चाहते हैं। इसके साथ ही उन्होंने कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल और पी. चिदम्बरम पर विवादित टिप्पणी की है। 

श्री श्री रविशंकर पर साधा निशाना, कहा - आर्ट आफ लिविंग का कोई धर्म नहीं होता

 

-'श्री श्री रविशंकर राम जन्मभूमि के नाम पर अपना एनजीओ चलाने आए हैं, वे एनीजीओ के माध्यम से रामजन्म भूमि के नाम पर पैसा कमाना चाहते हैं। श्री श्री रविशंकर का कोई धर्म नहीं है, न  वह अपने को हिंदू मानते हैं, न मुस्लमान माने है, न ईसाई मानते और न सिख मानते हैं। आर्ट आफ लिविंग का कोई धर्म नहीं होता। वो किस धर्म में है ये बताया ही नहीं है'

कपिल सिब्बल पर साधा निशाना

-वेदांती ने आरोप लगाते हुए कहा है कि आंतकियों से पैसा लेकर कपिल सिब्बल और चिदम्बरम अयोध्या में राममंदिर का मसला उलझाए हुए हैं। 

-उन्होंने कहा कि आंतकियों से जज भी डरे हुये हैं। इसकी वजह से राममंदिर निर्माण को लेकर निर्णय नहीं हो पा रहा है।

 

-इसके साथ ही वेदांती ने जजों पर भी निशाना साधते हुए कहा है कि जजों ने अग्रेंजी जरूर पढ़ी है, लेकिन उन्हें रामलला के बारे में नहीं पता है। वेदांती ने जजों को राम के इतिहास के बारे में अनभिज्ञ बताया है।