उत्तराखंड की पुलिस की 8 सदस्यों ने किया माउंट एवरेस्ट को फतह, 3 सदस्य बीच रास्ते लौट आए

देहरादूनः 29 मार्च को राजधानी दून से निकली राज्य पुलिस की टीम ने इतिहास रच दिया है। टीम के 11 में से 8 सदस्यों ने माउंट एवरेस्ट पर पताका फहरा दिया है।

एडिशनल एसपी नवनीत सिंह भुल्लर चोटी पर पहंुचने से चंद मिनट पहले ही आक्सीजन की समस्या से ग्रसित हो गये थे। इसी तरह अन्य दो सिपाहियों को भी चढ़ने में समस्या हुई थी।

माउंट एवरेस्ट फतह करने में इंस्पेक्टर संजय उप्रेती, फायरमैन रवि चैहान, योगेश रावत, प्रवीण सिंह और कांस्टेबिल विजेंद्र कुडियाल कांस्टेबल, मनोज जोशी और सिपाही सूर्यकांत और विरेंद्र काला को सफलता मिली है। जबकि एडिशनल एसपी नवनीत सिंह और सिपाही रोशन कोठारी, सुशील को वापस लौटना पड़ा।

एडीजी ने बताया कि पुलिसकर्मियों का एवरेस्ट फतह करना राज्य पुलिस के लिये गौरव की बात है। माउंट एवरेस्ट पर पताका फहराने वालों को क्या प्रमोशन आदि होना है ये शासन स्तर से तय होगा।