जेल में बंद एक बाबा का भक्त था बुराड़ी का परिवार, उसके कहने पर करता था घर में अनुष्ठान

दिल्लीः बुराड़ी में 11 लोगों की मौत के मामले में नए तथ्य सामने आ रहे है। बताया जाता है कि जिस परिवार में 11 लोगों की मौत हुई है, वो एक बाबा का भक्त बताया जा रहा है। यह भी कहा जा रहा है कि इसी बाबा के कहने पर यह परिवार तमाम पूजा-पाठ किया करता था। घर में मिली एक डायरी भी इसी बात की गवाही दे रही है।

पड़ोसियों के मुताबिक, भाटिया परिवार बेहद धार्मिक था। परिवार के एक करीबी रिश्तेदार ने भी पुलिस की पूछताछ में इस बाबा का नाम लिया है।

हालांकि वह स्वयंभू बाबा पिछले कई वर्षों से जेल में बंद है। ऐसे में पुलिस ने जब पूछताछ में दबाव बनाया तो उस शख्स ने कई दूसरे बाबाओं के भी नाम बताए।

हालांकि पुलिस के शक की सूई उसी पहले वाले बाबा पर अटकी है, क्योंकि जेल में बंद वह बाबा भी हरि भगवान का उपासक बताया जाता है।

सूत्रों का कहना है कि घर में मिली डायरी में भी कई जगह जिक्र है कि हरि की प्राप्ति कैसे होगी। हरि भगवान किस दिन मिलेंगे। वहीं जेल में बंद इस बाबा पर शक करने की पुलिस की दूसरी और पुख्ता वजह ये भी है कि बाबा पर पहले भी तंत्र-मंत्र साधना करने के आरोप लगते रहे हैं।

सबसे चौकाने वाला तथ्य नलों का मिला है। जिस मकान में यह घटना घटी है, उसके एक कमरे की दीवार पर 11 नल लगाए गए थे। इन 11 नलों में से 7 नल के मुंह मुड़े हुए थे। घटना में मरने वाले 11 लोगों में से 7 महिलाएं थीं

पुलिस को हादसे वाले घर से पूजा पाठ भी पूजा-पाठ और अनुष्ठान वगैरह करने के कई सबूत मिले हैं।